NCERT Solutions Class 9 Hindi Sparsh पाठ 12 एक फूल की चाह

Scroll down for PDF

NCERT Solutions for Class 9 Hindi for Sparsh पाठ 12 एक फूल की चाह 

प्रश्न अभ्यास 
 

1. निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर दीजिए -

1. सुखिया के बाहर जाने पर पिता का हृ्दय काँप उठता था।

 
उत्तर 
 

मेरा हृदय काँप उठता था
बाहर गई निहार उसे
यही मनाता था कि बचा लूँ
किसी भाँति इस बार उसे।

 
2. पर्वत की चोटी पर स्थित मंदिर की अनुपम शोभा। 


उत्तर

ऊँचे शैल-शिखर के ऊपर
मंदिर था विस्तीर्ण विशाल
स्वर्ण कलश सरसिज विहसित थे
पाकर समुदित रवि कर जाल।

 

3. पुजारी से प्रसाद फूल पाने पर सुखिया के पिता की मन स्थिति।

उत्तर

भूल गया उसका लेना झट

परम लाभ-सा पाकर मैं।

सोचा- बेटी को माँ के ये
पुण्य-पुष्प दूँ जाकर मैं।

 
4. पिता की वेदना और उसका पश्चाताप।
 
उत्तर 
 

अंतिम बार गोद में बेटी
तुझको ले न सका मैं हा
एक फूल माँ का प्रसाद भी
तुझको दे न सका मैं हा

 
(ख) बीमार बच्ची ने क्या इच्छा प्रकट की?

उत्तर

बीमार बच्ची ने देवी माँ के प्रसाद का एक फूल की इच्छा प्रकट की।

(ग) सुखिया के पिता पर कौन-सा आरोप लगाकर उसे दंडित किया गया?

उत्तर

सुखिया के पिता पर मंदिर की पवित्रता भंग करने का आरोप लगाकर दंडित किया गया।

(घ) जेल से छूटने के बाद सुखिया के पिता ने अपनी बच्ची को किस रूप में पाया?

उत्तर

जेल से छूटने के बाद सुखिया के पिता ने अपनी बच्ची को राख की ढेरी के रूप में पाया।

(ङ) इस कविता का केन्द्रिय भाव अपने शब्दों में लिखिए।

उत्तर

इस कविता का केन्द्रिय भाव छुआछूत है। यह मानवता के नाम पर कलंक है। जन्म के आधार पर किसी को अछूत मानना एक अपराध है। मंदिर जैसे पवित्र स्थानों पर अछूत होने पर किसी के प्रवेश पर रोक लगाना सर्वथा अनुचित है। कवि चाहता है कि इस प्रकार की सामाजिक विषमता का शीघ्र अंत हो। सभी को सामाजिक एवं धार्मिक स्वतंत्रता प्राप्त हो।

(च) इस कविता में से कुछ भाषिक प्रतीकों बिंबों को छाँटकर लिखिए −

उदाहरण : अंधकार की छाया
(i) .............................                (ii) .................................
(iii) ...........................                 (iv) .................................
(v) .............................

उत्तर

(च) (i) निज कृश रव में

(ii) स्वर्ण-घनों में कब रवि डूबा
(iii) जलते से अंगारे
(iv) विस्तीर्ण विशाल
(v) पतित-तारिणी पाप हारिणी

2. निम्नलिखित पंक्तियों का आशय स्पष्ट करते हुए उनका अर्थ-सौंदर्य बताइए −

(क) अविश्रांत बरसा करके भी 
आँखे तनिक नहीं रीतीं
 
(ख) बुझी पड़ी थी चिता वहाँ पर
छाती धधक उठी मेरी
 
(ग) हाय! वही चुपचाप पड़ी थी
अटल शांति-सी धारण कर
 
(घ) पापी ने मंदिर में घुसकर
किया अनर्थ बड़ा भारी


उत्तर 


(क) आँखें हमेशा रोती रहती हैं।  उनसे आँसू रूपी पानी बरसता रहता है। आँसू कभी समाप्त नहीं होते हैं। इन पंक्तियों में पिता के लगातार निरंतर रोने की दशा का वर्णन किया गया है।

(ख) सुखिया की चिता की आग अब बुझ गई थी। लेकिन उसे देखकर पिता के दिल में दुख से उपजी वेदना की चिता जलने लगी। अर्थ की सुंदरता यह है कि एक चिता बाहर जलकर अभी बुझी है और दूसरी चिता दिल के अंदर जलनी आरंभ हो गई है। इसमें पिता के दुख और उससे उत्पन्न वेदना का वर्णन किया गया है।

(ग) चंचल सुखिया बीमारी से पीड़ित होकर ऐसे चुपचाप लेटी हुई थी मानो उसने अटल शांति धारण कर ली हो। यहाँ नटखट बालिका का शांत भाव से पड़े रहने की दशा का वर्णन है।

(घ) मंदिर में आए लोगों ने जब सुखिया के पिता को मंदिर में देखा, तो उन्हें बड़ा गुस्सा आया। लोगों को मंदिर में एक अछूत का आना पसंद नहीं आया। वे एक अछूत का मंदिर में इस प्रकार चले आने को अनर्थ मानने लगे।
 
 

Tags: 

Click on the text For more study material for Hindi please click here - Hindi

Latest NCERT & CBSE News

Read the latest news and announcements from NCERT and CBSE below. Important updates relating to your studies which will help you to keep yourself updated with latest happenings in school level education. Keep yourself updated with all latest news and also read articles from teachers which will help you to improve your studies, increase motivation level and promote faster learning

NCERT NTSE Admit Card 2020 released - know more

Introduction: NTSE 2020 National Talent search examination is conducted by NCERT to take out the students who excel in science. It is organized to measure and let the students with talent outshine in their coming future. This talent search exam is taken in 2 stages....

Requirements for admissions in CBSE affiliated Schools

CBSE gives an advanced form of education. They try to indulge students in interactions and teach application based subjects along with some others. Due to this preponderance of parents, they tend to admit their children in CBSE affiliated schools. General conditions...

CBSE to conduct a voluntary test for class 11th and 12th

Nowadays students have the liberty to choose the field they seem to fit in. A few years back the problem was parents who burdened children with their own choices. On the other side, now students along with their parent's support are free to choose their field. Not any...

CBSE Circular Aryabhatta Ganit Challenge

For students with a keen interest in mathematics are now provided with a better opportunity to explore their knowledge. CBSE has announced to conduct an exam for the purpose of generating interest in maths among students. It is a trial to clarify the myth that...

Seven Motivational tips for every student

If you’re are a student or a learner and you doesn’t feel like study then this article is going to be very important for you, Reading constantly and Staying motivated as a student is one of the most challenging tasks and barriers to educational success. Education is...

How to crack a competitive examination

“How I crack a competitive examination” is a frequently asked question by today’s students. Cracking a competitive exam is a challenging task. Attaining a huge amount of study and solving several complex problems in a limited amount of time is a huge task. Competitive...

×
Studies Today