NCERT Solutions Class 5 Hindi पाठ 4 नन्हा फ़नकार

Scroll down for PDF

NCERT Solutions for Class 5 Hindi for Chapter 4 नन्हा फ़नकार

केशव की घंटियाँ

प्रश्न 1. “माशा अल्लाह! ये घंटियां कितनी सुंदर है| तुमने यह खुद बनाई है?”
बादशाह अकबर ने यह बात इसलिए कई होगी-
(क) केशव के काम की तारीख में
(ख) यह जानने के लिए कि घंटियाँ कितनी सुंदर है
(ग) केशव से बातचीत शुरू करने के लिए
(घ) घंटिया किसने बनाई , यह जानने के लिए

(ङ) क्योंकि उन्हें यकीन नहीं था कि 10 साल का बच्चा केशव इतनी सुंदर घंटियां बना सकता है|
(च) कोई और कारण जो तुम्हें ठीक लगता हो|
उ त्तर-
 बादशाह अकबर ने यह बात इसलिए कही होगी क्योंकि उन्हें यकीन नहीं था कि 10 साल का बच्चा कैसे इतनी सुंदर घंटियां बना सकता है|

प्रश्न 2. केशव पत्थर पर घंटिया तथा कडियां तराश रहा था| उसके द्वारा तराशी जा रही घंटियों और कड़ियों का चित्र अपनी कॉपी में बनाओ| तुम्हे क्या कोई ख़ास इमारत याद आ रही है जिसमें नक्काशी की गई हो| संभव हो तो उसकी तस्वीर चिपकाओ|

उत्तर-

image 

प्रश्न- केशव के पिता गुजरात से आगरा आकर बस गए थे| हो सकता है कि तुम या तुम्हारे कुछ साथियों के माता – पिता भी कहीं ओर से यहां आकर बस गए हो | बातचीत करके पता लगाओ कि ऐसा करने के क्या हो सकते हैं ?
उत्तर-
 जब किसी को अपने क्षेत्र में रोजगार आदि नहीं मिलता है, तब वह दूसरी जगह जाकर बस जाता है|

कहानी से
प्रश्न 3. अकबर को पहरेदार की दखलंदाजी अच्छी क्यों नहीं लगी?
उत्तर- 
अकबर एक अच्छे राजा थे| वह अपनी प्रजा से मिलते रहते थे| इसलिए अकबर पहरेदारो की दखलंदाजी अच्छी नही लगी|

प्रश्न 4. “लगता है कोई बहुत बड़ा आदमी है,” यहां पर ‘बड़े आदमी’ से केशव का क्या मतलब है?
उत्तर- 
यहां पर बड़े आदमी से केशव का मतलब है- कोई अमीर आदमी तथा प्रतिष्ठित आदमी|

प्रश्न 5. “खरगोश की-सी कातर आँखें”
पशु पक्षियों से तुलना करते हुए और भी बहुत-सी बातें कही जाती जैसे ‘हिरन जैसी चाल’| ऐसे ही कुछ उदाहरणतुम भी बताओ|
उत्तर-
(1) शेर जैसी दहाड़
(2) मोरनी जैसी गर्दन
(3) कोयल की आवाज
(4) हिरनी-सी चाल
(5) हाथी जैसी मतवाली चाल|

प्रश्न 6. अकबर ने जब नक्काशी सीखना चाहा, तो केशव न उन्हे सन्देहभरी नज़रों से क्यों देखा?
उत्तर- 
अकबर एक बहुत बड़ी बादशाह थे| जब उन्होंने नक्काशी सीखना चाहा, तो केशव ने उन्हे इसी कारण संदेहभरी नजरों से देखा|

प्रश्न 7. केशव दस साल का है| क्या उसकी उम्र के बच्चों का इस तरह के काम से जुड़ना ठीक है? अपने उत्तर के कारण जरूर बताओ|
उत्तर-
 केशव दस साल का है| उसकी उम्र के बच्चों का इस तरह के काम से जुड़ना ठीक नहीं है, क्योंकि इतनी उम्र के बच्चों को पढाई-लिखाई करने के बाद ही ऐसे काम करने चाहिए|

प्रश्न 8. “केशव बार-बार सबको सुनाता|”
केशव सबसे क्या कहता होगा? कल्पना काके केशव के शब्दों में लिखो|
उत्तर-
 केशव सबसे कहता होगा किमुझसे तो बादशाह मिलने आए थे| क्या तुमसे कभी बादशाह मिलने आए है? उन्होंने तो मुझे शाबाशी भी दी है क्योंकि मैंने उन्हें नक्काशी सिखाई थी|

शब्दों की निराली दुनिया

प्रश्न 1.(क) नक्काशी जैसे किसी काम को चुनो(बढ़ईगिरी, मिस्त्री इत्यादि) जिसमे औजारों का इस्तेमाल होता है| उन ख़ास औजारों के नाम पता करके लिखो|
उत्तर- 
बढ़ईगिरी में प्रयोग होने वाले औज़ार-
आरी –(लकड़ी काटने के लिए)
हथोड़ा -(कील ठोकने के लिए)
रंदा -(लक्सी घिसने के लिए)
जमुर -(कील उखाड़ने के लिए)

(ख) छैनी, हथौड़ा, तराशना, किरचें- ये सब पत्थर के काम से जुड़े हुए शब्द है| लकड़ी के दूकानदार और बढ़ई से बात करके लकड़ी के काम से जुड़े शब्द इकट्ठे करो और कक्षा में उन पर सामूहिक रूप से बातचीत करो| कुछ शब्द हम यह दे रहे हैं| आरी, रंदा, बुरादा, प्लाई, सूत…..|
उत्तर- 
आरी, रंदा, बुरादा, प्लाई, सूत, कील, हथोड़ी, कड़ी, फट्टा, पेच, सनमाइका आदि|
छात्र स्वयं कक्षा में बातचीत करें|

(ग) हो सकता है के तुम्हारे इलाके में इन चीजों और कामों के लिए कुछ अलग किस्म के शब्द इस्तेमाल होते हों| उन पर भी बातचीत करो|
उत्तर- छात्र अपने इलाके के लिए इस्तेमाल होने वाले शब्द के आधार पर बातचीत करें|

प्रश्न 2. ‘कटाव’ शब्द ‘कट’ क्रिया से पैदा हुआ है| नीचे लिखी संज्ञाएँ किन क्रियाओं से बनी हैं? इन संज्ञाओं का अर्थ समझो और वाक्य में प्रयोग करो|
चुनाव , पड़ाव , बहाव , लगाव
उत्तर-

संज्ञाएँक्रियावाक्य
चुनावचुनअच्छे फूल का चुनाव कर लो|
पड़ावपड़आज यही पड़ाव दाल लो|
बहावबहनदी का भाव तेज है|
लगावलगपढ़ाई से उसका लगाव है|

प्रश्न 3.“लडके ने जल्दी-जल्दी कोई प्राथना बुदबुदाई|”
रेखांकित शब्द और नीचे लिखे शब्दों में क्या अंतर है? वाक्य बनाकर अंतर स्पष्ट करो|
उत्तर- 
बुदबुदाने का अर्थ है- मन ही मन में कुछ बोलना| जबकि फुसफुसाना, बडबडाना तथा भुनभुनाना में कुछ आवाज़ भी बाहरसुनाई देती है|
बुदबुदाना – नौकर धीरे-धीरे बुदबुदाया|
फुसफुसाना – मंत्री फुसफुसा कर कुछ बोले
बडबडाना – वह क्रोध में बड़बड़ाने लगी
भुनभुनाना – बिना वजह भुनभुनाना ठीक नहीं है|

प्रश्न 4. “बेवकूफ़, खड़ा हो| हुजूरे आला के सामने बैठने की जुर्रत कैसे की तूने! झुककर इन्हें सलाम कर|”
महल के पहरेदार ने केशव से यह इसीलिए कहा, क्योंकि-
(क) बादशाह के सामने बैठ रहें उनका अपमान है|
(ख) पहरेदार यह कहकर अपनी वफादारी दिखाना चाहता था|
(ग) पहरेदार को बादशाह के आने का पता नहीं चला , इसलिए वह घबरा गया था|
(घ) बादशाह का केशव से बात करना पहरेदार को अच्छा नहीं लगा|
उत्तर-
 महल के पहरेदार ने केशव से यह इसलिए कहा- क्योंकि वह अपनी वफादारी दिखाना चाहता था|

Tags: 

Click on the text For more study material for Hindi please click here - Hindi

Latest NCERT & CBSE News

Read the latest news and announcements from NCERT and CBSE below. Important updates relating to your studies which will help you to keep yourself updated with latest happenings in school level education. Keep yourself updated with all latest news and also read articles from teachers which will help you to improve your studies, increase motivation level and promote faster learning

CBSE Exam centre locator Mobile App

The CBSE board examinations will start from 15 February 2020. The CBSE Board issued admit cards, and all schools start distributing copies of the admit cards. All students should read their admit card details correctly. CBSE admit card details the examination centre,...

Noida School to Shut For 3 Days Coronavirus Detected

Some of the schools in Noida have decided to shut for 3 Days because father of two students in Noida was traced to be infected with the contagious Coronavirus. The internal exams have also been cancelled in those schools after the virus alarm. A 45 year old male who is...

Applied Mathematics Introduced by CBSE as Elective for Class 11 and Class 12

Mathematics Syllabus Revised by CBSE at the Senior Secondary Level! The Central Board of Secondary Education (CBSE) to offer 'Applied Mathematics' as an Elective for XI and XII standard students. The elective subject, Applied Mathematics, is focused at evolving an...

CBSE wont use Failed or Compartment in CBSE result mark sheet

CBSE has announced a significant change in the CBSE 10th and 12th mark sheet of the results to be given to the students. The CBSE board also decided to end the use of the words “failed” or “compartmental” given to students in the CBSE Board Report 2020 mark sheet....

New Guidelines in Delhi Schools for CORONAVIRUS

The Schools of Delhi strives for Good Health and Wellness for all its community of Students, Parents and Staff, after the daily increasing of positive cases of Coronavirus in Delhi. The Delhi Government instructed all the schools of the state on Thursday to shut down...

CBSE postpones class 12 exams in Delhi

The Central Board of Secondary Education (CBSE) on Wednesday postponed the board examination of standard XII scheduled for Thursday, that is, on the 27th February 2020 for the areas of north - east Delhi affected by communal riots. The rescheduled date for the exam is...

×
Studies Today