NCERT Solutions Class 4 Hindi chapter 14 मुफ़्त ही मुफ़्त

Scroll down for PDF

NCERT Solutions for Class 4 Hindi Rimjhim for chapter 14 मुफ़्त ही मुफ़्त

तुम्हारी समझ
(क) हर बार भीखुभाई कम दाम देना चाहते थे| क्यों?
उत्तर-
हर बार भीखुभाई कम दाम देना चाहते थे, क्योंकि वे कंजूस थे|

(ख) हर जगह नारियल के दाम में फर्क क्यों था?
उत्तर-
नारियल के बगीचे में उनका दाम सबसे कम था, क्योंकि वहाँ वह पैदा होता था नारियल जैसे-जैसे आगे पहुँचता गया, उसमें और भी कम लोगों की कमाई जुड़ती गई| इसलिए हर जगह नारियल के दाम में फर्क था|

(ग) क्या भीखुभाई को नारियल सच में मुफ़्त में ही मिला? क्यों?
उत्तर-
भिखूभाई को नारियल सच में मुफ्त में ही नहीं मिला| उसके लिए उन्हें बहुत ही मेहनत करनी पड़ी| इस तरह उनका मेहनताना तो नारियल की कीमत से कही ज्यादा ही था|

(घ) वे खेत में बूढ़े बरगद के नीचे बैठ गए | तुम्हारे विचार से कहा नी बरगद को बुढ़ा क्यों कहा गया होगा?
उत्तर –
बरगद बहुत पुराना होगा| उसकी डालियाँ भी कमजोर हो गई होगी| इसलिए बरगद को बुढ़ा कहा गया होगा|


भीखुभाई ऐसे थे

कहानी को पढकर तुम भी भिखु भाई के बारे में काफी कुछ जान गए होंगे | भिखु भाई के बारे में कुछ बाते बताओं|
उत्तर –
(क) उन्हें खाने-पीने का शौक था|
(ख) वह बहुत कंजूस थे|
(ग) वह लालची भी थे|
(घ) वे बातें बनाने में चतुर थे|
(ड़) वे अधिक खुशी में अपना होश खो देते थे|


क्या बढ़ा, क्या घटा

कहानी जैसे-जैसे आगे बढ़ती है , कुछ चीज़ें बढ़ती हैं और कुछ घटती है | बता ओं इ नका क्या हुआ , ये घाट या बढ़े?
उत्तर-
नारियल का दाम घटा
भीखुभाई की लालच बढ़ा
रास्ते की लम्बाई बढ़ी
भीखुभाई की थकान बढ़ी


कहो कहानी

यदि इस कहानी में भीखुभाई को नारियल नहीं बल्कि आम खाने की इच्छा होती तो कहानी आगे कैसे बढ़ती? बताओ?
उत्तर-
विद्यार्थी ‘पाठ का सार’ पढ़े और उसमें नारियल की जगह ‘आम’ लिखें| आम की कीमत को प्रति किलों बताएँ|


बात की बात

कहानी में नारियल वाले और भीखुभाई की बातचीत फिर से पढ़ो| अब इसे अपने घर की बोली में लिखो|
उत्तर-
विद्यार्थी अपनी-अपनी स्थानीय बोली के अनुसार नारियल वाले और भिखुभाई की बातचीत लिखें|


शब्दों की बात
नाना-नानी पतीली-पतीला

ऊपर दिए गए उदाहरणों की मदद से नीचे दी गई जगह में सही शब्द लिखो|
उत्तर-
काका – काकी
दर्जी – दर्जिन
मलिन – माली
टोकरी – टोकर
मटका – मटकी
गद्दा – गद्दी


मंडी

“मंडी में कोलाहल फैला हुआ था| व्यापारियों की ऊँची-ऊँची आवाजें गूँज रही थी|
(क) मंडी में क्या-क्या बिक रहा होगा?
उत्तर-
आलू, ब्याज, टमाटर, गाजर, बंदगोभी, फूलगोभी, बैंगन, सीताफल, पालक, लोकी, शलगम, चुकंदर, भिंडी, करेला, टिंडा, मिर्च, लहसुन, अदरक, नींबू, केला, संतरा, अंगूर, सेब, चीकू, पपीता, अमरूद, आदि|

(ख) मंडी में तरह-तरह की आवाजें सुनाई देती हैं|
जैसे- ताजा टमाटर! बीस रूपया! बीस रूपया! बीस रूपया!
उत्तर-
आलू! आलू! दस का किलो! दस का किलो!
मीठी गाजर! मीठी गाजर! चार का पाव! चार का पाव
अदरक-मिर्च! अदरक-मिर्च! पाँच के पाव
मीठे सेब! ताजे सेब! तीस रूपया! तीस रूपया!

(ग) क्या तुम अपने आसपास की ऐसी जगह सोच सकते हो जहाँ बहुत शोर होता है| उस जगह के बारे में लिखो|
उत्तर-
मेरे घर से थोड़ी दूरी पर एक मार्केट है| वहाँ बहुत शोर होता होता हैं| वहाँ सड़क के दोनों किनारों पर दुकानें बनी हुई हैं| वहाँ किरण की, कपड़े की, बिजली के सामान की रेडियो- टी.वी. की, किताब-कॉपियों की दुकानें हैं| दुकादार ऊँची आवाजें लगाकर अपने समान की तारीफ करते हुए ग्राहक को लुभाने की कोशिश करते हैं|


गुजरात की झलक

(क) ‘मुफ़्त ही मुफ़्त’ गुजरात की लोककथा है| इस लोककथा के चित्रों में ऐसी कौन-सी बातें हैं जिनसे तुम यह अंदाजा लगा सकते हो|
उत्तर-
इस लोककथा के चित्रों में भीखुभाई के पहनावे, पेड़-पौधे, मंडी के दृश्य, ऊँट की पीठ पर लगा कपड़ा, ऊँटवाले, घोड़ेवाले, माली आदि के वस्त्रों को देखकर हम अंदाजा लगा सकते हैं कि ‘मुफ़्त ही मुफ़्त’ गुजरात की लोककथा हैं|

(ख) गुजरात में किसी का आदर करने के लिए नाम के साथ भाई बेन (बहन) जैसे शब्दों का प्रयोग होता हैं| तेलुगु में नाम के आगे ‘गारू’ और हिंदी में ‘जी’ जोड़ा जाता हैं|
तुम्हारी कक्षा में भी अलग-अलग भाषा बोलने वाले बच्चे होंगे! पता करो और लिखो कि वे अपनी भाषा में किसी को आदर देने के लिए किन-किन शब्दों का इस्तेमाल करते हैं|
उत्तर-
विद्यार्थी अपनी कक्षा में सहपाठियों से पूछकर अलग-अलग भाषाओं में बोले जाने वाले आदरसूचक शब्दों की सूची बनाएँ|

 

Tags: 

Click on the text For more study material for Hindi please click here - Hindi

Latest NCERT & CBSE News

Read the latest news and announcements from NCERT and CBSE below. Important updates relating to your studies which will help you to keep yourself updated with latest happenings in school level education. Keep yourself updated with all latest news and also read articles from teachers which will help you to improve your studies, increase motivation level and promote faster learning

TIPS: Study habits for success

Being a student is fairly a difficult job. Alongside maintaining your curricular as well as extra-curricular activities adds more to it. Performance in academics is one of the major concerns. Every parent now tries to get their children more indulged in studies. Need...

NCERT NTSE Admit Card 2020 released - know more

Introduction: NTSE 2020 National Talent search examination is conducted by NCERT to take out the students who excel in science. It is organized to measure and let the students with talent outshine in their coming future. This talent search exam is taken in 2 stages....

IBM to Set AI Curriculum for CBSE Class IX to XII

The Central Board of Secondary Education has tied up with IBM to develop a course of Artificial Intelligence in the CBSE curriculum. Now CBSE is going to introduce Artificial Intelligence as an elective subject for class 9 to 12th. The CBSE has taken this decision to...

Extension of dates by CBSE for Single Girl Child Merit (SGC) scholarship

CBSE has announced to extend dates for SGC scholarship. Previously the dates to submit the SGC scholarship form were 18 October 2019. Now dates have shifted. For online submission, the last date is 31st October. Whereas date for submission of hard copies of renewal...

Sample Papers for Class 10 Boards 2020

CBSE has recently released the Class 10 Sample Papers for Board exams which are to be held in March 2020. The sample papers have been for class 10 for all subjects along with the suggested marking scheme. CBSE releases these suggested papers every year so that the...

CBSE DATE SHEET 2020

Central Board of Secondary Education, CBSE is to conduct the 10th and 12th Board Examination 2020 from February 15, 2020. Due to University Admissions, CBSE has shifted Board Exams dates from 1 March to February 15 from 2019. This year too CBSE would be making changes...

×
Studies Today