NCERT Solutions Class 4 Hindi chapter 12 सुनीता की पहिया कुर्सी

NCERT Solutions for Class 4 Hindi Rimjhim for chapter 12 सुनीता की पहिया कुर्सी

कहानी से
प्रश्न 1. सुनीता को सब लोग गौर से क्यों देख रहे थे?
उत्तर –
सुनीता को सब गौर इसलिए देख रहे थे, क्योंकि वह अपने पैरों से चलने-फिरने में असमर्थ थी और पहिया-कुर्सी में बैठकर चल रही थी|

प्रश्न 2. सुनीता को दुकानदार का व्यवहार क्यों बुरा लगा?
उत्तर –
सुनीता ने पकड़ने के लिए हाथ बढ़ाया ही बड़ा ही था कि दुकानदार ने थैला उसकी गोद में रख दिया| दुकानदार का इस तरह दया दिखाना उसे अच्छा नहीं लगा|


मजेदार

सुनीता की सड़क की जिंदगी देखने में मजा आता है|
(क) तुम्हारे विचार सुनीता को सड़क देखना अच्छा क्यों लगता होगा?
उत्तर –
सुनीता अपने पैरों से चल नहीं सकती थी, इसलिए उसे बाहर की चीजों को देखने का मौका कम ही मिल पाता होगा और वह अकेलापन भी महसूस करती होगी|

इस कारण उसे सड़क देखना अच्छा लगता होगा ताकि वह बाहरी चीजों को देखकर अपना मन ब हला सकें|
सड़क को ध्यान से देखो और बताओ-

·तुम्हें क्या-क्या चीजें नजर आती हैं?
·लोग क्या-क्या करते हुए नजर आते हैं?
उत्तर –
●मुझे सड़क के किनारे पेड़-पौधे और बिजली के खंभे नजर आते हैं| सड़क पर आते-जाते लोग, साइकिलें, स्कूटर, मोटरसाइकिलें, कारें, बसे आदि भी दिखाई देती है|
· लोग आते-जाते हुए, बातें करते हुए, नींबू-पानी पीते हुए और पेड़ों की छाया में बैठे हुए नजर आते हैं|


मनाही

फरीदा की माँ ने कहा , “ इस तरह के सवाल नहीं पूछने चाहिए|”
फरीदा पहिया कुर्सी के बारे में जानना चाहती थी पर उसकी माँ ने उसे रोक दिया|
● माँ ने फरीदा को क्यों रोक दिया होगा?
उत्तर
– फरीदा ने सुनीता से पहिया-कुर्सी के बारे में पूछा तो माँ ने सोचा होगा कि उसके इस सवाल सुनीता के मन को ठेस पहुँचेगी| इसलिए माँ ने फरीदा को रोक दिया होगा|

● क्या फरीदा को पहिया कुर्सी के बारे में नहीं पूछना चाहिए था ? तुम्हें क्या लगता है?
उत्तर –
मेरी समझ से फ़रीदा ने सुनीता पहिया-कुर्सी के बारे में पूछकर कोई गलती नहीं कि| वह तो स्वाभाविक उत्सुकता के कारण पूछ रही थी| उसके मन में सुनीता को दुख पहुँचाने की भावना नहीं थी|

● क्या तुम्हें भी कोई काम करने या कोई बात कहने से मान किया जाता है ? कौन मना करता है ? कब मना करता है?
उत्तर –
हाँ, मुझे बाहर जाकर खेलने से मना किया जाता है| जब मैं अपना होमवर्क पूरा नहीं करता हूँ तब मम्मी खेलने से मना करती हैं|


मैं भी कुछ कर सकती हूँ….

(क) यदि सुनीता तुम्हारी पाठशाला में आए तो उसे किन-किन कामों में परेशानी आएगी?
उत्तर –
यदि सुनीता मेरी पाठशाला में आए तो सबसे पहले उसे कक्षा में जाने में परेशानी होगी| कक्षा में जाने के लिए उसे बरामदे चढ़कर जाना होगा| वह खेल-कूद में भाग नहीं ले सकेगी|

(ख) उसे य ह परेशानी न हो उसके लिए अपनी पाठशाला में क्या-क्या तुम कुछ बदलाव सुझा सकती हो?
उत्तर –
पाठशाला की कक्षाओं में पहुँचने के लिए बरामदें में जाने का रास्ता ढालू होना चाहिए| ऐसे खेल भी कराए जाने चाहिए जिन्हें विकलांग बच्चे भी खेल सकें| दूसरे बच्चें उनके साथ बराबरी का बर्ताव करें, ऐसी व्यवस्था करनी चाहिए|


प्यारी सुनीता

प्रश्न- सुनीता के बारे में पढ़कर तुम्हारे मन में कई सवाल और बातें आ रही होंगी| वे बातें सुनीता को चिट्ठी लिखकर बताओ|
उत्तर-
18-12-2009
ए-22, सेक्टर-3
आर.के.पुरम, नई दिल्ली
प्रिय सुनीता,
सुनीता तुम्हारे बारें में जाना, मैं तुम्हारी हिम्मत की प्रशंसा करती हूँ| लेकिन क्या तुम्हारे
मन में कभी इस तरह की बातें नहीं आती कि काश मैं भी सारे बच्चों की तरह चल पाती, दौड़ पाती, तुम्हारी तरह ही ऐसे बहुत सारे बच्चे हैं, जिनमें से कुछ चल-फिर नहीं सकते, कुछ सुन-बोल नहीं सकते, कुछ देख नहीं सकते, उनके लिए तुम क्या कहना चाहोगी? इन बातों का जवाब जरूर लिखना|
तुम्हारी
मोनिका


कहानी से आगे

सुनीता ने कहा , “ मैं पैरों से चल ही नहीं सकती|”
(क) सुनीता अपने पैरों से चल -फिर नहीं सकती | तुमने पिछले साल पर्यावरण अध्ययन की किताब आस – पास में रवि भैया के बारे में पढ़ा होगा|
रवि भैया देख नहीं सकते फिर भी किताबें पढ़ लेते हैं |

● वे किस तरह की किताब पढ़ लेते हैं?
उत्तर –
ब्रेल लिपि में लिखी किताबें पढ़ते हैं|

● उस तरह की किताबों के बारे में सबसे पहले किसने सोचा?
उत्तर –
उस तरह की किताब के बारे में सबसे पहले लुई ब्रेल ने सोचा|

(ख) आसपास में कुछ ऐसे लोगों के बारे में बात की गई है जो सुन – बोल नहीं सकते हैं|
● क्या तुम किसी बच्चे को जानते जो बोल नहीं सकता?
उत्तर –
मैं एक बच्चों जानते जो सुन बोल नहीं सकता|

● तुम उसे किस तरह से अपनी बात समझाते हो?
उत्तर-
हम उसे इशारे से अपनी बात समझाते हैं|


मेरा आविष्कार

प्रश्न- सुनीता जैसे कई बच्चे हैं | इनमें से कुछ देख नहीं सकते तो कुछ बोल या सुन नहीं सकते कुछ बच्चों के हाथों में परेशानी है, तो कुछ चल नहीं सकते|?
तुम ऐसे ही किसी एक बच्चे के बारे में सोचो | यदि तुम्हें कोई शारीरिक परेशानी है , तो अपनी चुनौ तियों के बारे में सोचो ं| उ स चुनौती का सामना करने के लिए तुम क्या अविष्कार करना चाहोगे ? उसके बारे में सोच कर बताओ कि-

*तुम यह कैसे बनाओगे?
*उसे बनाने के लिए किन ची ज़ों की जरूरत होगी?
*वह चीजें क्या-क्या काम कर सकेगी?
*उस ची ज़ का चित्र भी बनाओ|
उत्तर –
पत्येक विद्यार्थी अपनी कल्पना के आधार पर लिखे और उस आविष्कार का चित्र भी कल्पना के आधार पर ही बनाएँ|

 

Tags: 

 


Click for more Hindi Study Material

Latest NCERT & CBSE News

Read the latest news and announcements from NCERT and CBSE below. Important updates relating to your studies which will help you to keep yourself updated with latest happenings in school level education. Keep yourself updated with all latest news and also read articles from teachers which will help you to improve your studies, increase motivation level and promote faster learning

Board Cancelled Official CBSE Statement

Keeping in view the requests received from various State Governments and the changed circumstances as on date, following has been decided- 1. Examinations for classes X and XII which were scheduled from 1st July to 15th, 2020 stand cancelled. 2. Assessment of the...

CBSE Board Exams in July Press Release

CBSE has released press note for the dates for the CBSE Board exams for Class 10. CBSE said “With regards to conduct of Class X examinations several queries are being received by the CBSE. In this context, it is once again reiterated that remaining examinations of...

CBSE Online Training for Teachers 2020

It is clear that this pandemic has utterly disrupted an education system that many assert was already losing its relevance. Enhancing professional development digitally is a need in the times of COVID-19, where social distancing and remote interactions is the new...

Board Exams Class 10 and Class 12 Datesheet 2020

CBSE has announced the datesheet for the remaining exams of class 10 and class 12 exams. The exams are going to start in July. The class 10 and 12th board exams will be conducted for the remaining 29 papers from July 1 to July 15, 2020, at various centers nominated by...

Procedure for correction in Name and Date of Birth

Procedure for correction in Name and Date of Birth in CBSE records Name Change: Applications regarding changes in name or surname of candidates will be considered provided the changes have been admitted by the Court of law and notified in the Government Gazette before...

Class 12 Board Exams Datesheet Announced

CBSE has announced the datesheet of the remaining class 12 board exams, see below:  

×
Studies Today