NCERT Solutions Class 4 Hindi chapter 12 सुनीता की पहिया कुर्सी

Scroll down for PDF

NCERT Solutions for Class 4 Hindi Rimjhim for chapter 12 सुनीता की पहिया कुर्सी

कहानी से
प्रश्न 1. सुनीता को सब लोग गौर से क्यों देख रहे थे?
उत्तर –
सुनीता को सब गौर इसलिए देख रहे थे, क्योंकि वह अपने पैरों से चलने-फिरने में असमर्थ थी और पहिया-कुर्सी में बैठकर चल रही थी|

प्रश्न 2. सुनीता को दुकानदार का व्यवहार क्यों बुरा लगा?
उत्तर –
सुनीता ने पकड़ने के लिए हाथ बढ़ाया ही बड़ा ही था कि दुकानदार ने थैला उसकी गोद में रख दिया| दुकानदार का इस तरह दया दिखाना उसे अच्छा नहीं लगा|


मजेदार

सुनीता की सड़क की जिंदगी देखने में मजा आता है|
(क) तुम्हारे विचार सुनीता को सड़क देखना अच्छा क्यों लगता होगा?
उत्तर –
सुनीता अपने पैरों से चल नहीं सकती थी, इसलिए उसे बाहर की चीजों को देखने का मौका कम ही मिल पाता होगा और वह अकेलापन भी महसूस करती होगी|

इस कारण उसे सड़क देखना अच्छा लगता होगा ताकि वह बाहरी चीजों को देखकर अपना मन ब हला सकें|
सड़क को ध्यान से देखो और बताओ-

·तुम्हें क्या-क्या चीजें नजर आती हैं?
·लोग क्या-क्या करते हुए नजर आते हैं?
उत्तर –
●मुझे सड़क के किनारे पेड़-पौधे और बिजली के खंभे नजर आते हैं| सड़क पर आते-जाते लोग, साइकिलें, स्कूटर, मोटरसाइकिलें, कारें, बसे आदि भी दिखाई देती है|
· लोग आते-जाते हुए, बातें करते हुए, नींबू-पानी पीते हुए और पेड़ों की छाया में बैठे हुए नजर आते हैं|


मनाही

फरीदा की माँ ने कहा , “ इस तरह के सवाल नहीं पूछने चाहिए|”
फरीदा पहिया कुर्सी के बारे में जानना चाहती थी पर उसकी माँ ने उसे रोक दिया|
● माँ ने फरीदा को क्यों रोक दिया होगा?
उत्तर
– फरीदा ने सुनीता से पहिया-कुर्सी के बारे में पूछा तो माँ ने सोचा होगा कि उसके इस सवाल सुनीता के मन को ठेस पहुँचेगी| इसलिए माँ ने फरीदा को रोक दिया होगा|

● क्या फरीदा को पहिया कुर्सी के बारे में नहीं पूछना चाहिए था ? तुम्हें क्या लगता है?
उत्तर –
मेरी समझ से फ़रीदा ने सुनीता पहिया-कुर्सी के बारे में पूछकर कोई गलती नहीं कि| वह तो स्वाभाविक उत्सुकता के कारण पूछ रही थी| उसके मन में सुनीता को दुख पहुँचाने की भावना नहीं थी|

● क्या तुम्हें भी कोई काम करने या कोई बात कहने से मान किया जाता है ? कौन मना करता है ? कब मना करता है?
उत्तर –
हाँ, मुझे बाहर जाकर खेलने से मना किया जाता है| जब मैं अपना होमवर्क पूरा नहीं करता हूँ तब मम्मी खेलने से मना करती हैं|


मैं भी कुछ कर सकती हूँ….

(क) यदि सुनीता तुम्हारी पाठशाला में आए तो उसे किन-किन कामों में परेशानी आएगी?
उत्तर –
यदि सुनीता मेरी पाठशाला में आए तो सबसे पहले उसे कक्षा में जाने में परेशानी होगी| कक्षा में जाने के लिए उसे बरामदे चढ़कर जाना होगा| वह खेल-कूद में भाग नहीं ले सकेगी|

(ख) उसे य ह परेशानी न हो उसके लिए अपनी पाठशाला में क्या-क्या तुम कुछ बदलाव सुझा सकती हो?
उत्तर –
पाठशाला की कक्षाओं में पहुँचने के लिए बरामदें में जाने का रास्ता ढालू होना चाहिए| ऐसे खेल भी कराए जाने चाहिए जिन्हें विकलांग बच्चे भी खेल सकें| दूसरे बच्चें उनके साथ बराबरी का बर्ताव करें, ऐसी व्यवस्था करनी चाहिए|


प्यारी सुनीता

प्रश्न- सुनीता के बारे में पढ़कर तुम्हारे मन में कई सवाल और बातें आ रही होंगी| वे बातें सुनीता को चिट्ठी लिखकर बताओ|
उत्तर-
18-12-2009
ए-22, सेक्टर-3
आर.के.पुरम, नई दिल्ली
प्रिय सुनीता,
सुनीता तुम्हारे बारें में जाना, मैं तुम्हारी हिम्मत की प्रशंसा करती हूँ| लेकिन क्या तुम्हारे
मन में कभी इस तरह की बातें नहीं आती कि काश मैं भी सारे बच्चों की तरह चल पाती, दौड़ पाती, तुम्हारी तरह ही ऐसे बहुत सारे बच्चे हैं, जिनमें से कुछ चल-फिर नहीं सकते, कुछ सुन-बोल नहीं सकते, कुछ देख नहीं सकते, उनके लिए तुम क्या कहना चाहोगी? इन बातों का जवाब जरूर लिखना|
तुम्हारी
मोनिका


कहानी से आगे

सुनीता ने कहा , “ मैं पैरों से चल ही नहीं सकती|”
(क) सुनीता अपने पैरों से चल -फिर नहीं सकती | तुमने पिछले साल पर्यावरण अध्ययन की किताब आस – पास में रवि भैया के बारे में पढ़ा होगा|
रवि भैया देख नहीं सकते फिर भी किताबें पढ़ लेते हैं |

● वे किस तरह की किताब पढ़ लेते हैं?
उत्तर –
ब्रेल लिपि में लिखी किताबें पढ़ते हैं|

● उस तरह की किताबों के बारे में सबसे पहले किसने सोचा?
उत्तर –
उस तरह की किताब के बारे में सबसे पहले लुई ब्रेल ने सोचा|

(ख) आसपास में कुछ ऐसे लोगों के बारे में बात की गई है जो सुन – बोल नहीं सकते हैं|
● क्या तुम किसी बच्चे को जानते जो बोल नहीं सकता?
उत्तर –
मैं एक बच्चों जानते जो सुन बोल नहीं सकता|

● तुम उसे किस तरह से अपनी बात समझाते हो?
उत्तर-
हम उसे इशारे से अपनी बात समझाते हैं|


मेरा आविष्कार

प्रश्न- सुनीता जैसे कई बच्चे हैं | इनमें से कुछ देख नहीं सकते तो कुछ बोल या सुन नहीं सकते कुछ बच्चों के हाथों में परेशानी है, तो कुछ चल नहीं सकते|?
तुम ऐसे ही किसी एक बच्चे के बारे में सोचो | यदि तुम्हें कोई शारीरिक परेशानी है , तो अपनी चुनौ तियों के बारे में सोचो ं| उ स चुनौती का सामना करने के लिए तुम क्या अविष्कार करना चाहोगे ? उसके बारे में सोच कर बताओ कि-

*तुम यह कैसे बनाओगे?
*उसे बनाने के लिए किन ची ज़ों की जरूरत होगी?
*वह चीजें क्या-क्या काम कर सकेगी?
*उस ची ज़ का चित्र भी बनाओ|
उत्तर –
पत्येक विद्यार्थी अपनी कल्पना के आधार पर लिखे और उस आविष्कार का चित्र भी कल्पना के आधार पर ही बनाएँ|

 

Tags: 

Click on the text For more study material for Hindi please click here - Hindi

Latest NCERT & CBSE News

Read the latest news and announcements from NCERT and CBSE below. Important updates relating to your studies which will help you to keep yourself updated with latest happenings in school level education. Keep yourself updated with all latest news and also read articles from teachers which will help you to improve your studies, increase motivation level and promote faster learning

CBSE class 10, 12 board exam important information

CBSE class 10, 12 board exam: important information to prevent problems for students : The Central Board of Secondary Education (CBSE) has issued an advisory for the students of class 10 and class 12 board. As per the notice, the registration of students appearing in...

Sample Papers for Class 12 Boards 2020

CBSE has released the final sample papers for the class 12 boards exams as per the new pattern as per which the question papers are expected to come in the 2020 board exams for class 12. The sample papers have been for class 12 for all subjects along with the suggested...

Sample Papers for Class 10 Boards 2020

CBSE has recently released the Class 10 Sample Papers for Board exams which are to be held in March 2020. The sample papers have been for class 10 for all subjects along with the suggested marking scheme. CBSE releases these suggested papers every year so that the...

Extension of dates by CBSE for Single Girl Child Merit (SGC) scholarship

CBSE has announced to extend dates for SGC scholarship. Previously the dates to submit the SGC scholarship form were 18 October 2019. Now dates have shifted. For online submission, the last date is 31st October. Whereas date for submission of hard copies of renewal...

CBSE Instructs schools to form Eco Clubs

The Central Board of Secondary Education has directed schools to form Eco Clubs under the Board for Environmental Protection. They have further asked the schools to ensure that every student would save one litre of water at home and school every day. It was started by...

CBSE DATE SHEET 2020

Central Board of Secondary Education, CBSE is to conduct the 10th and 12th Board Examination 2020 from February 15, 2020. Due to University Admissions, CBSE has shifted Board Exams dates from 1 March to February 15 from 2019. This year too CBSE would be making changes...

×
Studies Today